सकूल लडकीसेक्सी

Press Report

समाचार स्रोतों की सूची लगातार अद्यतन

Share on Facebook Share on Twitter Share on Google+

Ads

असुरक्षित स्कूल

२० मार्च २०१८ ०६:०९:२३ Jagran Hindi News - editorial:nazariya

स्कूल संचालकों ने अपने स्कूल में न तो आग से बचने के उपाय किए हैं न ही अग्निशमन विभाग से अनापत्ति प्रमाण पत्र लिया है

Vice सभी समाचार Time२० मार्च २०१८ ०६:०९:२३


Ads

स्कूलों में सीसीटीवी

१८ सितंबर २०१७ ०१:५१:४८ Jagran Hindi News - editorial:nazariya

हरियाणा के एक निजी स्कूल में बच्चे की हत्या के बाद प्रदेश के स्कूलों में भी छात्रों की सुरक्षा के लिए एहतियाती कदम उठाए जा रहे हैं।

Vice सभी समाचार Time१८ सितंबर २०१७ ०१:५१:४८


प्राइवेट स्कूलों जैसा है ये प्राइमरी स्कूल!

१५ अप्रैल २०१७ १०:०४:१८ Latest And Breaking Hindi News Headlines, News In Hindi | अमर उजाला हिंदी न्यूज़ | - Amar Ujala

बेसिक शिक्षा विभाग के स्कूलों के बारे में आम धारणा है कि यहां पढ़ाई नहीं होती, इंतजामात अच्छे नहीं होते, लचर व्यवस्था होती है, काम में ढील बरती जाती है लेकिन बरेली के भरतौल प्राइमरी स्कूल में ऐसा नहीं है।

Vice सभी समाचार Time१५ अप्रैल २०१७ १०:०४:१८


आलीमेव स्कूल

२० मई २०१६ ०१:०५:०५ bhaskar

यहां प्रिंसिपल ही नहीं टीचरों की राजनीति हावी खेड़ी खातीवास मंढोठी स्कूल बारहवीं कक्षा में जीरोरिजल्टदेने वाले पांच सरकारी स्कूलों ने गिनाए पांच बहाने सीसीई के नंबर नहीं जुड़े कोहला स्कूल महीना पहले मिले टीचर खुर्दबन स्कूल अंग्रेजी का टीचर नहीं था स्कूलशिक्षा बोर्ड ने बुधवार को 12वीं के नतीजे घोषित किए। इस बार पिछले साल के मुकाबले रिजल्ट साढ़े 8 फीसदी बेहतर रहा। बावजूद इसके प्रदेश के पांच सरकारी स्कूलों के नतीजा शून्य रहा है। इसकी वजह जानने के लिए भास्कर ने पड़ताल की तो पांचों स्कूलों की ओर से पांच ‘बहाने’ यानी वजह गिनाई गई। इनमें से एक स्कूल तो ऐसा जिसे पहले सेमेस्टर के खराब रिजल्ट की वजह से चेतावनी मिली थी। गोहाना के एक स्कूल संचालकों का तर्क था कि बोर्ड की गलती की वजह से उनके स्कूल का रिजल्ट शून्य दिखाया गया है। झज्जर | अक्टूबरमें आए पहले सेमेस्टर के रिजल्ट में भी 12वीं के सभी 11 छात्र फेल थे। उस समय तत्कालीन डीईओ वेदप्रकाश दौलता और झज्जर बीईओ बीरेंद्र सांगवान यहां पहुंचे थे और अध्यापकों को चेतावनी दी थी। स्कूल में नियमित प्रिंसिपल नहीं...

Vice null Time२० मई २०१६ ०१:०५:०५


एक्सीलेंस स्कूल न

१५ मई २०१६ ०२:५१:४५ bhaskar

भास्कर संवाददाता | छतरपुर एक्सीलेंस स्कूल नंबर 1 के शिक्षक अपने छात्रों के अच्छे रिजल्ट के लिए अभी से स्कूल में एक्सट्रा क्लास लगाकर पढ़ा रहे हैं। इस पहल में 10 वीं और 12 वीं के कक्षा के छात्र और स्कूल के शिक्षक भी अपनी रुची दिखा रहे हैं। क्लास रोजाना दो घंटे स्कूल में सुबह 11 से 1 बजे तक लगाई जा रही है। एक्सट्रा कक्षाएं स्कूल के प्राचार्य ने छात्र और शिक्षकों की सहमति पर कलेक्टर की अनुमति से लगाना शुरू की गई हैं। शहर के एक्सीलेंस स्कूल क्रमांक एक में पढ़ने वाले बच्चों के अच्छे भविष्य को देख एक्सीलेंस स्कूल नंबर 1 के शिक्षक अपने छात्रों के अच्छे रिजल्ट के लिए अभी से स्कूल में एक्सट्रा क्लास लगाकर पढ़ा रहे हैं। इस पहल में 10 वीं और 12 वीं के कक्षा के छात्र और स्कूल के शिक्षक भी अपनी रुची दिखा रहे हैं। क्लास रोजाना दो घंटे स्कूल में सुबह 11 से 1 बजे तक लगाई जा रही है। एक्सट्रा कक्षाएं स्कूल के प्राचार्य ने छात्र और शिक्षकों की सहमति पर कलेक्टर की अनुमति से लगाना शुरू की गई हैं। शहर के एक्सीलेंस स्कूल क्रमांक एक में पढ़ने वाले बच्चों के अच्छे भविष्य को देखते हुए...

Vice null Time१५ मई २०१६ ०२:५१:४५


छोटे स्कूलों का हाईफाई स्कूलों से मुकाबला नहीं

०८ मई २०१६ २३:५०:१३ bhaskar

सुमनडे बोर्डिंग सीनियर सेकेंडरी स्कूल लद्देवाली रोड में जालंधर एफिलिएटेड स्कूल एसोसिएशन की मीटिंग हुई। प्रधान स्वराज कुमार और महासचिव गुरजीत सिंह ने अध्यक्षता की। इसमें 50 से अधिक स्कूलों के प्रमुखों ने अपनी समस्याओं चर्चा की। उन्होंने कहा कि पंजाब स्कूल शिक्षा बोर्ड से मान्यता प्राप्त एसोसिएट सभी स्कूल लो कास्ट हैं। इसके बावजूद इन स्कूलों से मैरिट रिजल्ट रहा है। सरकार इन स्कूलों का मुकाबला हाई फाई सीबीएसई स्कूलों से करे। उनके स्कूलों की फीसें बहुत कम है और सालाना चार्ज भी ना के बराबर है। अधिकतर स्कूल साल बाद भी फीसें नहीं बढ़ाते, अगर बढ़ती भी हैं तो 20 से 100 रुपए तक ही। उन्होंने कहा कि वह डीसी साहिब की सभी हिदायतें लागू करने के लिए तैयार हैं। सरकार उनके स्कूलों के बच्चों को भी मिड डे मील, एससी बच्चों को वजीफा, स्कूलों में लगे पानी सीवरेज बिल, हाउस टैक्स, ट्रांसपोर्ट का रोड टैक्स में छूट मिले। सभी आर्थिक पक्ष से कमजोर होनहार विद्यार्थियों को मैरिटोरियस स्कूलों में दाखिला मिले। यहां एमडी सभ्रवाल, मनोज भारद्वाज, करनैल सिंह, वीरान बाली सहित अन्य...

Vice null Time०८ मई २०१६ २३:५०:१३


कंपोजिट स्कूल

१० अप्रैल २०१६ ०१:२०:४८ Jagran Hindi News - editorial:nazariya

अक्षर ज्ञान दे रहे सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों और उनके अभिभावकों के लिए यह अच्छी खबर है कि हर जिले में पब्लिक स्कूल की तर्ज पर एक-एक कंपोजिट स्कूल खोले जाएंगे।

Vice सभी समाचार Time१० अप्रैल २०१६ ०१:२०:४८


स्कूल में नहीं कर सकते कॉमर्शियलाइजेशन

२९ दिसंबर २०१५ ०१:३३:४६ bhaskar

एनसीईआरटी सब्जेक्ट प्राइवेट पब्लिशर्स 8वीं की किताबों की लिस्ट झूठ बोलते हैं स्कूल प्रिंसिपल के साइन के साथ लगे किताबों की िलस्ट 8वीं तक एनसीईआरटी और नौवीं से सीबीएसई का सिलेबस लगाने के आदेश बच्चों की नोटबुक स्कूलों की बुक सीबीएसईने सभी स्कूलों को प्राइवेट पब्लिशर्स की जगह एनसीईआरटी की किताबें लगाने के लिए कहा है। लेकिन शहर के प्राइवेट स्कूल सीबीएसई के आदेशों का उल्लंघन कर तीन से चार गुना महंगी प्राइवेट पब्लिशर्स की किताबें ही बेच रहे हैं। स्कूलों का कहना है कि एनसीईआरटी का पहली से पांचवीं क्लास तक का सिलेबस सीबीएसई के स्टैंडर्ड का नहीं है। प्राइवेट पब्लिशर्स की महंगी किताबें लगाने के सवाल का जवाब नहीं दे पाए। वहीं, स्कूल की किताबों की लिस्ट तो पेरेंट्स को मालूम होती है और ही बुक सेलर्स को। बुक सेलर्स के अनुसार स्कूल द्वारा कुछ किताब विक्रेताओं के साथ संपर्क कर सिर्फ उन्हें ही किताबों की सूची दी जाती है। यही नहीं कई स्कूलों द्वारा स्कूल के अंदर स्टॉल लगा कर भी महंगी किताबें बेची जाती हैं। गौरतलब है कि चेरिटेबल ट्रस्ट के नाम पर स्कूल...

Vice null Time२९ दिसंबर २०१५ ०१:३३:४६


स्कूल का किया निरीक्षण

२९ नवंबर २०१५ २३:२०:३५ bhaskar

जालोर| कस्तूरबाआवासीय स्कूल आकोली का रविवार को जिला प्रभारी मोहनलाल मेघवाल ने निरीक्षण कर स्कूल की व्यवस्था जांची। मेघवाल ने बताया कि आवासीय स्कूल के निरीक्षण में शिक्षण, सुरक्षा भोजन व्यवस्था को जांचा गया। वहीं आवासीय स्कूल में 50 पलंग भेंट करने वाली भामाशाह मीनादेवी रेगर का आभार व्यक्त किया गया। इस मौके पर स्कूल का स्टॉफ मौजूद था।

Vice null Time२९ नवंबर २०१५ २३:२०:३५


दो स्कूल बंद, दो नजदीक के स्कूल में मर्ज

०४ नवंबर २०१५ १६:०१:५० Jagran Hindi News - jharkhand:dhanbad

जासं, धनबाद : भूमिहीन और जर्जर भवन होने के चलते जिले के दो स्कूलों बंद करते हुए दो अन्य स्कूलों को न

Vice सभी समाचार Time०४ नवंबर २०१५ १६:०१:५०