राजेश्वरानंद सरस्वती की कथा पुस्तक

Press Report

समाचार स्रोतों की सूची लगातार अद्यतन

Share on Facebook Share on Twitter Share on Google+

Ads

स्वामी विद्यानंद सरस्वती का स्वागत, कथा आज से मुरैना में

२६ फ़रवरी २०१७ २२:१२:४६ bhaskar

ग्वालियर| आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी विद्यानंद सरस्वती रविवार को विमान से राजमाता विजयाराजे सिंधिया विमानतल पर पहुंचे। श्री भावभावेश्वर सेवा समिति के पदाधिकारियों विजय गोयल, गोपाल कृष्ण अग्रवाल, प्रमोद अग्रवाल, हरीशंकर पचौरी, सुरेंद्र शर्मा, अजय गोयल, कुलदीप वर्मा, त्रिविक्रम वर्मा, पवन शर्मा ने स्वामी विद्यानंद सरस्वती की अगवानी कर स्वागत किया। वे विमानतल से विकास नगर स्थित गोपाल कृष्ण अग्रवाल के निवास पर पहुंचे। विद्यानंद सरस्वती 27 फरवरी से 9 मार्च तक अग्रसेन पार्क, मुरैना में भागवत कथा करेंगे। ग्वालियर प्रवास पर आए स्वामी विद्यानंद सरस्वती का स्वागत करते भक्त।

Vice null Time२६ फ़रवरी २०१७ २२:१२:४६


Ads

स्वामी विद्यानंद सरस्वती की भागवत कथा 27 फरवरी से

१९ फ़रवरी २०१७ २३:५३:३३ bhaskar

मुरैना| श्रीभाव भावेश्वर सेवा समिति ने जीवाजीगंज के महाराजा अग्रसेन पार्क में 27 फरवरी से नौ मार्च तक श्रीमद भागवत कथा का आयोजन किया है। कथा में प्रवचन करने के लिए राष्ट्रसंत स्वामी विद्यानंद सरस्वती ने मुरैना आने की स्वीकृति प्रदान कर दी है। कथा का वाचन सुबह 10 बजे से 12 बजे तक व शाम को पांच से सात बजे तक किया जाएगा। भागवत कथा का आयोजन कृष्णा देवी प|ी स्वर्गीय मदनलाल हलवाई ने किया है।

Vice null Time१९ फ़रवरी २०१७ २३:५३:३३


दंदरौआ धाम में इंद्रदेवेश्वरानंद सरस्वती की कथा 28 से

२२ जनवरी २०१७ २३:३८:४३ bhaskar

दंदरौआ धाम में इंद्रदेवेश्वरानंद सरस्वती की कथा 28 से ग्वालियर| श्री दंदरौआ दाम आश्रम डीडी नगर में 28 जनवरी से 4 फरवरी तक श्रीमद भागवत कथा एवं नवकुंडीय श्रीराम महायज्ञ का आयोजन किया जा रहा है। महामंडलेश्वर संत इंद्रदेवेश्वरानंद सरस्वती दोपहर 3 से शाम 6.30 बजे तक प्रवचन सुनाएंगे। 28 जनवरी को सुबह 9 बजे गोला का मंदिर स्थित कैलादेवी मंदिर से कलश यात्रा निकाली जाएगी, जो प्रमुख मार्गों से होती हुई स्थल स्थल पर पहुंचेगी। कथा का संस्कार चैनल पर सीधा प्रसारण किया जाएगा। 4 फरवरी को हवन, पूर्णाहुति व भंडारा होगा। महाराष्ट्र ब्राह्मण सभा: उपनयन संस्कार फरवरी में ग्वालियर| महाराष्ट्र ब्राह्मण सभा व महाराष्ट्र समाज ग्वाल्हेर द्वारा संयुक्त रूप से सामूहिक उपनयन संस्कार का आयोजन 1 फरवरी को लाला का बाजार स्थित भवन में सुबह 11.55 बजे पर किया जाएगा। यह जानकारी मीडिया प्रभारी निशिकांत सुरंगे ने दी। रमेश यादव प्रदेश महासचिव नियुक्त ग्वालियर| अखिल भारतवर्षीय यादव महासभा के प्रदेश अध्यक्ष जगदीश यादव ने रमेश यादव को महासभा का प्रदेश महासचिव नियुक्त किया है। प्रधान...

Vice null Time२२ जनवरी २०१७ २३:३८:४३


एसजीपीसी की तरफ से धर्म प्रचार के तहत सरस्वती स्कूल में धार्मिक पुस्तकें बांटी

२५ दिसंबर २०१६ ००:४७:३८ bhaskar

बरनाला| एसजीपीसीधर्म प्रचार के तहत स्कूलों में धार्मिक पुस्तकें बांटी। जानकारी देते हुए एसजीपीसी के कर्मचारी गुरजंट सिंह सोना सुरजीत सिंह ठीकरीवाल ने बताया कि एसडीपीसी मैंबर अकाली दल के दिहाती जिला प्रधान पर्मजीत सिंह खालसा की अगुवाई में गुरुद्वारा माता प्रधान कौर में जपुजी साहिब डे मनाया गया। इसके तहत स्कूलों में जपुजी साहिब, गुटका साहिब छोटे साहिबजादो के इतिहास की पुस्तकें बांटी गई। उन्होंने कहा कि सरस्वती पब्लिक स्कूल में पुस्तकें बांटी गई। इस मौके पर प्रिंसीपल आशा शर्मा, लखवीर कौर, रीना रानी, बलजिंदर सिंह आदि हाजिर थे।

Vice null Time२५ दिसंबर २०१६ ००:४७:३८


कल्याण ज्ञान सुनने से नहीं, आचरण में उतारने से होता है: स्वामी राजेश्वरानंद

२३ दिसंबर २०१६ ०३:३४:१० bhaskar

भास्कर संवाददाता. श्रीगंगानगर ज्ञानसुनने से ही मनुष्य का कल्याण संभव नहीं है, ज्ञान को जीवन मे उतारने का प्रयास भी करना चाहिए। तभी जीवन का कल्याण होगा। यह बात दिल्ली, जम्मू, हरिद्वार में विभिन्न आश्रमों मंदिरों के संचालक स्वामी राजेश्वरानंद महाराज ने गुरुवार को जी ब्लॉक में आयोजित सत्संग में कही। उन्होंने कहा कि गीता का ज्ञान अर्जुन को भगवान श्री कृष्ण ने दिया। इसी गीता के ज्ञान को अर्जुन के साथ-साथ संजय धृतराष्ट्र ने भी पाया था परंतु क्या धृतराष्ट्र केवल गीता ज्ञान सुनने से अपना कल्याण संभव कर पाए? नहीं। क्योंकि धृतराष्ट्र इस ज्ञान को सुनने के पश्चात भी मोहवश अपने आचरण में उतार पाए। मुख्य सेवादार दीपक भाटिया के अनुसार स्वामी जी ने कहा कि सत्संग को एक कान से सुनकर दूसरे से निकाल देने से कल्याण नहीं होता, बल्कि कानों से सुनकर हृदय में बसाने से ही कल्याण होता है। जी ब्लॉक में स्वामी राजेश्वरानंद महाराज की कथा में पहुंचे श्रद्धालु

Vice null Time२३ दिसंबर २०१६ ०३:३४:१०


स्वामी राजेश्वरानंद के प्रवचन 2 से

३० नवंबर २०१६ ००:४८:१६ bhaskar

भोपाल| पं. गोरेलाल शुक्ल स्मृति में मानस भवन श्यामला हिल्स में 2 से 6 दिसंबर तक राम कथा होगी। इसमें मानस मर्मज्ञ स्वामी राजेश्वरानंद सरस्वती रामचरित मानस की चौपाई राम जन्म के हेतु अनेका और उससे जुड़े प्रसंगों पर प्रवचन देंगे। प्रवचन रोज शाम साढ़े छह बजे शुरू होंगे। तुलसी मानस प्रतिष्ठान के कार्याध्यक्ष डाॅ. रमाकांत दुबे व महेंद्र निगम ने बताया कि महिलाओं व बुजुर्गों के बैठने के लिए अलग से प्रबंध किए जाएंगे।

Vice null Time३० नवंबर २०१६ ००:४८:१६


साध्वी सरस्वती श्रीमद् भागवत कथा का रसपान कराएंगी

१८ अक्‍तूबर २०१६ २२:५६:०१ bhaskar

धमतरी| शहर में धर्म व भक्ति की धारा का संचार करने के उद्देश्य से सर्व हिन्दू समाज द्वारा शहर में भव्य भागवत कथा का आयोजन 14 से 20 दिसंबर तक किया जा रहा है। आयोजन को लेकर मंगलवार को सर्व हिन्दू समाज की बैठक गुजराती समाज भवन में हुई। कथा का रसपान साध्वी सरस्वती कराएंगी। भागवत कथा के पूर्व शहर में भव्य पोथी-पुराण शोभायात्रा निकाली जाएगी। जगह-जगह धर्मप्रेमियों व विभिन्न संगठन, समाजजनों द्वारा स्वागत कर रास्तेभर फूल बरसाएंगे। गुजराती समाज भवन में बैठक आयोजित कर सर्व हिन्दू समाज ने रणनीति बनाई। शोभायात्रा में बस्तर नृत्य, राउत नाचा व शौर्य प्रदर्शन भी होगा। आयोजन प्रमुख राजेश शर्मा ने कहा कि भागवत कथा आयोजन का उद्देश्य शहर में धर्म व भक्ति की धारा का संचार करना तथा शहरवासियों में आपसी भाईचारा बनाए रखना है। कथा गौशाला मैदान में होगा। इस मौके पर डॉ एनपी गुप्ता, लक्खुभाई भानुशाली, जानकी प्रसाद शर्मा, मोहन लालवानी, अशोक पवार समेत धर्मप्रेमी बड़ी संख्या में मौजूद थे।

Vice null Time१८ अक्‍तूबर २०१६ २२:५६:०१


स्वरूपानंद की टिप्पणी पर बवाल, राजेश्वरानंद ने दी चुनौती

१७ मई २०१६ ०१:१२:४८ bhaskar

उज्जैन. यथार्थ गीता पर शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती की टिप्पणी को लेकर विवाद खड़ा हो गया। शंकराचार्य ने कहा था कि परमहंस स्वामी अड़गड़ानंद जी महाराज की व्याख्या यथार्थ गीता कोई शास्त्रीय व्याख्या नहीं है। इस पर श्री परमहंस आश्रम के संत भड़क गए हैं। राजेश्वरानंद जी महाराज ने शंकराचार्य को गीता पर चर्चा के लिए खुली चुनौती दी है। उन्होंने उजड़खेड़ा क्षेत्र में स्थित यथार्थ गीता कैम्प में सोमवार को भास्कर से कहा कि यथार्थ गीता पढ़कर हिन्दू समाज एकत्रित हो जाए यह शंकराचार्य को मंजूर नहीं है। अाज देश जाति,धर्म और वर्ण जैसी समस्याओं में ही उलझा हुआ है। यथार्थ गीता ने समाज को धर्म, कर्म, यज्ञ और वर्ण जैसी व्याख्या से परिचित कराया और यही एक मात्र उपाय है जिसमें पूरा हिंदू समाज एकजुट हो सकता है। राजेश्वरानंद ने कहा कि शंकराचार्य यदि सनातन धर्म पर शास्त्रार्थ करने का सामर्थ रखते हैं तो उनका स्वागत है। यथार्थ गीता कहती है कि आत्मा ही सत्य है,सनातन है और जो उसका पुजारी है वही सनातन धर्मी है। कृपया गीता पर टिप्पणी न करें,यह अपौरुषेय वाणी...

Vice null Time१७ मई २०१६ ०१:१२:४८


जब शहर आए महर्षि दयानंद सरस्वती

२८ अप्रैल २०१६ २३:२३:५५ bhaskar

अनेक बार जो हम सोचते हैं, वह स्वप्न में दिखाई दे जाता है। वह स्वप्न अनेक बार सच भी हो जाता है। एक रात भी कुछ ऐसा ही हुआ। मस्तिष्क में प्रश्न कौंध रहा था हमारी यादों के इस शहर में कभी महान संत आया है। तभी उस असामान्य पलों में यूं आभास हुआ कि पगड़ी धारण किए एक भव्य दिव्य आकृति सामने विराजमान है। प्रणाम कर, आश्चर्य से पूछा आप यहां तो उत्तर मिला हां मैं आज ही आया हूं, कुछ दिवस यहां प्रवास रहेगा। रात्रि का अंतिम प्रहर था, पौ फटने वाली है, चौंककर मैं जाग गया। सामने अलमारी से अभिमन्यु खुल्लर लिखित पुस्तक ऋषि रखी थी। इसके मुख्य पृष्ठ पर पगड़ी धारण किए, जिस विभूति का चित्र अंकित है उनका दर्शन तो स्वप्न में ही हो चुका था- महर्षि दयानंद सरस्वती। पंडित लेखराम बताते हैं कि स्वामी दयानंद आबू पर्वत से चलकर ग्वालियर पधारे थे। राज्य के तत्कालीन महाराजा जयाजीराव सिंधिया ने उन्हीं दिनों भागवत कथा के विशाल आयोजन का निश्चय किया। इसमें देशभर से महात्माओं और संयासियों को आमंत्रित किया। महर्षि की इन सबसे भेंट की इच्छा थी। विष्णु दीक्षित, स्वामी जी के पास पहुंचे और कहा कि...

Vice null Time२८ अप्रैल २०१६ २३:२३:५५


भागवत के श्रवण मात्र से दुख दूर हो जाते हैं: राजेश्वरानंद

०८ अप्रैल २०१६ २३:४४:०७ bhaskar

ग्वालियर| भागवत कथा के श्रवण मात्र से दुख दूर हो जाते हैं। यह बात मथुरा से आए स्वामी राजेश्वरानंद ने मंशापूर्ण हनुमान मंदिर पर आयोजित भागवत कथा के प्रथम दिन कथा का महत्व समझाते हुए कही। कथा प्रारंभ करने से पूर्व भागवत काे मंदिर के गर्भगृह में रखा गया।

Vice null Time०८ अप्रैल २०१६ २३:४४:०७