बोधगया दहलाने के लिए जहानाबाद से सप्‍लाई की गई थी विस्‍फोटक

Press Report

समाचार स्रोतों की सूची लगातार अद्यतन

Share on Facebook Share on Twitter Share on Google+

Ads

१३ फ़रवरी २०१८ १८:३३:५१ Jagran Hindi News - bihar:patna-city

बोधगया प्लांट मामले में एनआइए को दो स्थानीय युवकों की तलाश है। जेएमबी के स्वयंभू प्रमुख सलाउद्दीन ने बोधगया में बम प्लांट करने की साजिश रची थी। पर पूर्ण लेख बोधगया दहलाने के लिए जहानाबाद से सप्‍लाई की गई थी विस्‍फोटक

Vice सभी समाचार Time१३ फ़रवरी २०१८ १८:३३:५१


Ads

बोधगया में विस्फोटक लगाने वाले दो आतंकी बंगाल से गिरफ्तार

1.1940262 ०२ फ़रवरी २०१८ ०९:१६:४९ Jagran Hindi News - west-bengal:kolkata

बोधगया कांड के बाद मुर्शिदाबाद जिले में आतंकी गतिविधियों की सूचना एसटीएफ को मिलने लगी थी।

Vice सभी समाचार Time०२ फ़रवरी २०१८ ०९:१६:४९


डबल मर्डर से दहला जहानाबाद, सामने आयी ये वजह

1.1470057 १० दिसंबर २०१७ १७:१८:५६ Jagran Hindi News - bihar:patna-city

एक सनकी युवक ने खंती से प्रहार कर मां तथा भाई की निर्मम हत्या कर दी। इतना ही नहीं उसने अपने छोटे भाई को भी गंभीर रूप से जख्मी कर दिया। वह भी जिंदगी और मौत से जूझ रहा है।

Vice सभी समाचार Time१० दिसंबर २०१७ १७:१८:५६


बनारस में पकड़ी गई विस्फोटक की खेप

0.9690325 ३१ जनवरी २०१७ २०:३३:२८ Latest And Breaking Hindi News Headlines, News In Hindi | अमर उजाला हिंदी न्यूज़ | - Amar Ujala

वाराणसी पुलिस ने शहर के कई जगहों पर छापेमारी की कार्रवाई की। पुलिस की इस कार्रवाई में पटाखा बनाने में इस्तेमाल होने वाला करीब एक टन विस्फोटक बरामद किया गया।

Vice null Time३१ जनवरी २०१७ २०:३३:२८


यूपी के फतेहपुर के जहानाबाद में हिंसा, 6 दुकानें और तीन गाड़िया जलाई गई

0.80142474 १४ जनवरी २०१६ १४:५८:२९ दैनिक सवेरा

यूपी के फतेहपुर के जहानाबाद में हिंसा, 6 दुकानें और तीन गाड़िया जलाई गई

Vice null Time१४ जनवरी २०१६ १४:५८:२९


गोलियों से यूनिवर्सिटी दहल गई पर पुलिस नहीं

0.7908094 २४ नवंबर २०१५ २१:५२:०० Jagran Hindi News - uttar-pradesh:meerut-city

जागरण संवाददाता, मेरठ : चौधरी चरण सिंह यूनिवर्सिटी में छात्रसंघ अध्यक्ष के ग्रुप पर फाय¨रग के मामले

Vice सभी समाचार Time२४ नवंबर २०१५ २१:५२:००


विस्फोटक की सप्लाई करने के आरोप में क्रेशर मालिक गिरफ्तार

0.7908094 ०६ अक्‍तूबर २०१५ २३:४१:५८ bhaskar

ग्राम चंवरढाल में अमोनियम नाइट्रेट मिलने के मामले में पुलिस ने क्रेशर संचालक धनराज जैन को गिरफ्तार कर लिया है। पूछताछ में आरोपी धनराज ने पुलिस को बताया कि वह रायगढ़ जिला (महाराष्ट्र) से विस्फोटक लाकर यहां खदानों में उसकी सप्लाई करता था। उसने बताया कि इसके लिए वह अमोनियम नाइट्रेट को स्टॉक कर रखा था। आरोपी से और भी अहम जानकारियां भी मिल सकती है। पुलिस की टीम ने 29 सितंबर को चंवर ढाल में रहने वाले डाकेश साहू के घर दबिश दी। वहां से पुलिस ने 17 बोरी अमोनियम नाइट्रेट बरामद किया। वहीं डाकेश को गिरफ्तार किया गया। आरोपी डाकेश ने पुलिस को बताया था कि विस्फोटक धनराज जैन ने रखवाया है। इसके बाद से आरोपी धनराज भी फरार हो गया था। पुलिस उसकी पतासाजी में लगी हुई थी। आखिरकार मंगलवार को आरोपी पुलिस के हत्थे चढ़ गया। मंगलवार को धनराज अपने क्रेशर खदान में आया था। एएसपी शशिमोहन सिंह ने घुमका पुलिस को मौके पर भेजा और धनराज को गिरफ्तार किया गया। अमोनियम नाइट्रेट को दीपक फर्टीलाइजर एंड पेट्रोकेमिकल कॉरपोरेशन लिमिटेड तलोजा जिला रायगढ़ महाराष्ट्र से लाया है। आरोपी धनराज

Vice null Time०६ अक्‍तूबर २०१५ २३:४१:५८


क्रेशर खदानों में उपयोग के लिए लाया गया विस्फोटक, घर से की गई बिक्री

0.7848739 ३० सितंबर २०१५ २३:४१:२१ bhaskar

घुमका इलाके के ग्राम चंवरढाल में अमोनियम नाइट्रेट मिलने के बाद यह बात सामने आ रही है कि ठेलकाडीह एरिया में मौजूद क्रेशरों में इस विस्फोटक को बेचा जा रहा था। पूरा माल खपाता इससे पहले ही पुलिस ने विस्फोटक को जब्त कर लिया। पुलिस सभी तथ्यों के आधार पर मामले की जांच कर रही है। हालांकि अधिकारी इस मामले में स्पष्ट जानकारी नहीं दे रहे हैँ, क्योंकि धनराज के पकड़े जाने के बाद ही खुलासा हो पाएगा। लेकिन यह बात साफ हो गई है कि 17 बोरी विस्फोटक बेचने के लिए ही किया गया होगा, यह प्रथम दृष्टया माना जा रहा है। दूसरी तरफ मामले में आरोपी डाकेश साहू ने धनराज जैन के नाम का खुलासा किया है। पुलिस को दिए बयान में उसने बताया कि चवेली स्थित क्रेशर का संचालन धनराज के द्वारा किया जा रहा है, क्रेशर में इस्तेमाल के लिए विस्फाेटक को लाया गया था। यह भी बात सामने आ रही कि डाकेश के घर से ही विस्फोटक की बिक्री की जाती थी, जिसकी खरीदी सभी क्रेशर संचालक करते थे। लेकिन इस तरह विस्फोटक को इस तरह रखना गैर कानूनी है। बताया गया कि एक बोरी में 50 किलो अमोनियम नाइट्रेट भरा था। इस हिसाब से तकरीबन 850 किलो...

Vice null Time३० सितंबर २०१५ २३:४१:२१


एमपी: विस्फोटकों में धमाका, 82 लोगों की जान गई

0.73558956 १२ सितंबर २०१५ १९:२३:३३ Latest And Breaking Hindi News Headlines, News In Hindi | अमर उजाला हिंदी न्यूज़ | - Amar Ujala

मध्यप्रदेश के झाबुआ जिले के पेटलावद कस्बे में विस्फोटक की दुकान में हुए धमाके में करीब 82 लोगों की मौत हो गई जबकि कई लोग घायल हु्ए हैं।

Vice सभी समाचार Time१२ सितंबर २०१५ १९:२३:३३


साल पहले पठानकोट को भी दहलाने की साजिश रची गई थी

0.73558956 ३० जुलाई २०१५ २३:३३:१६ bhaskar

गुरदासपुर का एसएसपी डीसी आॅफिस और कर्नल हाउस भी था आतंकियों के निशाने पर बम डिटेक्ट करने वाले कीमैन अश्वनी को 50 हजार का इनाम मिलेगा दीनानगरजैसा आतंकी हमला एक साल पहले पठानकोट में करने की साजिश खालिस्तान टाइगर फोर्स के मुखी जगतार सिंह तारा ने भी रची थी। इसके लिए तारा ने 2013 में जर्मनी से 10 लाख रुपये में ग्लाइडर पाकिस्तान मंगवाया था। इसके जरिए लश्कर के 4 आतंकियों को पाकिस्तान से पठानकोट में उतारना था। आतंकियों को शरण देने के लिए पठानकोट में एक खालिस्तान समर्थक को ढाबा भी खुलवाकर देना था। मगर ग्लाइडर में खराबी आने से तारा आतंकियों को प्रवेश नहीं करवा पाया। इस साजिश में केटीएफ के सदस्य प्रोफेसर हरजीत सिंह ने भी मदद की थी। हरजीत इस समय पाक में है। साजिश पूरी होने पर तारा पाकिस्तान से थाईलैंड चला गया। 2014 में वह जालंधर और बठिंडा के युवकों से सोशल साइट के जरिए जुड़ा। उन्हें थाईलैंड बुलाकर बम बनाने की ट्रेनिंग दी। मगर जैसे ही बठिंडा का युवक वापस इंडिया लौटा तो उसे पुलिस ने पकड़ लिया। उससे पूछताछ के बाद पुलिस खुफिया एजेंसियों को तारा के थाईलैंड में छिपे होने...

Vice null Time३० जुलाई २०१५ २३:३३:१६


आईआईएम बोधगया में ही, मिल गई जमीन

0.67783666 २९ मार्च २०१५ २३:४७:४१ bhaskar

इंजीनियरिंग-पॉलिटेक्निक कॉलेजों में 850 शिक्षक नियुक्त होंगे, एएमआईई वालों को भी मौका बिहारमें प्रस्तावित आईआईएम (इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट) बोधगया में ही बनेगा। मगध विश्वविद्यालय इसके लिए 119 एकड़ जमीन देने पर राजी हो गया है। रविवार को विवि के सिंडिकेट की बैठक में यह निर्णय हुआ। अब इस पर 12 अप्रैल को सीनेट मुहर लगाएगा, जिसके अध्यक्ष कुलाधिपति होते हैं। बैठक की शुरुआत में राज्यपाल सरकार के प्रतिनिधि ने विवि परिसर की जमीन मांगी तो डीन ने विरोध किया। विरोध के मद्देनजर बैठक कुछ देर के लिए रोकी गई। बैठक फिर शुरू हुई तो इस शर्त पर जमीन देने पर सहमति बनी कि पुराने ढांचे के नुकसान की भरपाई सरकार तत्काल करेगी। शेषपेज-11 जोजमीन दी जा रही है, उसके समीप मानविकी संकाय, कई आवासीय परिसर, छात्रावास और स्टेडियम हैं। सिंडिकेट की बैठक की अध्यक्षता कुलपति इश्तियाक अहमद ने की। बैठक में उच्च शिक्षा निदेशक एसएम करीम, नीरज कुमार, चंदेश्वर चंद्रवंशी, उषा सिन्हा, राज्यपाल के प्रतिनिधि अवधेश कुमार सिंह, छात्र कल्याण अध्यक्ष सीताराम सिंह, बबन सिंह, शिवाधार शर्मा...

Vice null Time२९ मार्च २०१५ २३:४७:४१