'भारत के साथ जबरन सीमा विवाद कर रहा चीन'

Press Report

समाचार स्रोतों की सूची लगातार अद्यतन

Share on Facebook Share on Twitter Share on Google+

Ads

१३ जनवरी २०१८ १३:०९:४५ Jagran Hindi News - bihar:gaya

तिब्बत की आजादी भारत के हित में है। लोगों को बताया जा रहा है, ताकि पंचायत से लेकर राज्य और राष्ट्र स्तर तक इस बात को पहुंचाया जा सके और लोग चीन निर्मित सामग्री का बहिष्कार करें। पर पूर्ण लेख 'भारत के साथ जबरन सीमा विवाद कर रहा चीन'

Vice सभी समाचार Time१३ जनवरी २०१८ १३:०९:४५


Ads

भारत-चीन फिर सीमा विवाद में

4.2595577 १४ जुलाई २०१७ १४:३२:५३ Hastakshep

आइये भारत-चीन सीमा विवाद को समझने की कोशिश करते हैं- यदि उपरोक्त लिंक काम न कर रहा हो तो पूरा आलेख पढ़ने के लिए लॉगिन करें। http://www.hastakshep.com

Vice सभी समाचार Time१४ जुलाई २०१७ १४:३२:५३


भारत-चीन सीमा विवाद: चीन ने भेजे युद्धपोत

3.727113 ०४ जुलाई २०१७ ११:३९:१६ Daily Hindi News | The First Online Hindi Newspaper from Sagar

हिंद महासागर पर भारतीय नौसेना की पैनी नजर नई दिल्‍ली (डेली हिंदी न्‍यूज़)। भारत-चीन सीमा पर जारी विवाद के बीच हिंद महासागर में चीनी युद्धपोत गश्त करना नजर आया है। छह जून को चीनी सैनिकों ने सिक्किम स्थित भारतीय सीमा में घुसकर दो बंकर नष्ट कर दिए थे जिसके बाद से इलाके में तनाव व्याप्त

Vice null Time०४ जुलाई २०१७ ११:३९:१६


भारत से सीमा विवाद पर चीन ने दिए संकेत

3.535899 २२ अप्रैल २०१६ १८:०४:५९ Navbharat Times

चीन के विदेश मंत्रालय का कहना है कि सीमा विवाद का ‘स्वतंत्र और तर्कपूर्ण’ राजनीतिक हल निकालने के लिए चीन और भारत, दोनों को समान रूप से आगे बढ़ना होगा। यह बयान पुराने मामले को सुलझाने के लिए पेइचिंग की इच्छा का संकेत देता है।चीन के विदेश मंत्रालय का कहना है कि सीमा विवाद का ‘स्वतंत्र और तर्कपूर्ण’ राजनीतिक हल निकालने के लिए चीन और भारत, दोनों को समान रूप से आगे बढ़ना होगा। यह बयान पुराने मामले को सुलझाने के लिए पेइचिंग की इच्छा का संकेत देता है।

Vice सभी समाचार Time२२ अप्रैल २०१६ १८:०४:५९


भारत-चीन संबंधों के लिए सीमा विवाद सुलझना जरूरी

3.1946683 २२ मई २०१५ १५:५०:५६ Jagran Hindi News - news:sports

राष्ट्रीय पेज पर ---------- - राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोवाल ने बताई सतर्कता की जरूरत - संवेदनशील मसलों पर विस्तृत योजना तैयार करने का इरादा नई दिल्ली, प्रेट्र : राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोवाल ने भारत और चीन के संबंधों में मजबूती के लिए सबसे अहम पहलू सीमा विवाद के निपटारे को बताया है। डोवाल ने सभी मसलों के निपटारे क

Vice सभी समाचार Time२२ मई २०१५ १५:५०:५६


भारत-चीन सीमा विवाद जल्द निपटाने पर राजी

3.1946683 १६ मई २०१५ ०६:०५:५५ Daily Hindi News | The First Online Hindi Newspaper from Sagar

नरेंद्र मोदी की आज शंगहाई में सीईओ के साथ बैठक बीजिंग (डेली हिंदी न्‍यूज़ डैस्‍क)। भारत और चीन शुक्रवार को सीमा विवाद के जल्द से जल्द राजनीतिक समाधान पर सहमत हुए जब प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बीजिंग से कहा कि वह कुछ मामलों पर अपने नजरिए पर दोबारा विचार करे और चीनी पर्यटकों के लिए

Vice null Time१६ मई २०१५ ०६:०५:५५


भारत-चीन सीमा विवाद को भेजें अंतरराष्ट्रीय न्यायालय

3.1946683 १५ मई २०१५ १८:१७:२८ Jagran Hindi News - news:national

पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं मशहूर वकील राम जेठमलानी ने मोदी सरकार से भारत-चीन सीमा विवाद को अंतरराष्ट्रीय न्यायालय में भेजने का आग्रह किया है। दोनों देशों के बीच सीमा विवाद लंबे समय से लंबित है।

Vice सभी समाचार Time१५ मई २०१५ १८:१७:२८


चीन ने कहा- भारत के साथ नियंत्रण में कर लिया गया है सीमा विवाद

3.1946683 ०९ मार्च २०१५ ०६:२०:५६ bhaskar

बीजिंग। भारत के साथ सीमा विवाद पर चीन ने नियंत्रण कर लिया है। अब दोनों देशों को आपसी सहयोग से इस विवाद को सुलझाने के लिए और अधिक प्रयास करने होंगे। यह बात चीन के विदेश मंत्री वांगयी ने नेशनल पीपुल्स कांग्रेस के वार्षिक सम्मेलन के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में कही। हालांकि, उन्होंने उदाहरण देते हुए कहा कि यह पहाड़ की चढ़ाई की तरह है। जहां जैसे-जैसे लक्ष्य के करीब जाते हैं, सफर मुश्किल होता है। उन्होंने कहा कि दोनों देशों को आपसी सहयोग के लिए बहुत कुछ करने की जरूरत है। ताकि द्विपक्षीय सहयोग से सीमा विवाद को सुलझाया जा सके। वांग ने चीन-भारत सीमा से जुड़े सवालों को &इतिहास की विरासत& करार दिया। उन्होंने कहा, &हमने कई साल तक इस पर काम किया और सीमा विवाद बातचीत में कुछ प्रगति हुई है। सीमा विवाद पर बातचीत छोटी-छोटी सकारात्मक घटनाओं के साथ प्रक्रिया में है। इस साल छह मई से पहले भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पहली चीन यात्रा पर सकते हैं। उनका यहां के लोग गर्मजोशी से स्वागत करेंगे।& चार हजार किमी लंबी सीमा पर पेट्रोलिंग पर फोकस भारत चीन के...

Vice null Time०९ मार्च २०१५ ०६:२०:५६


भारत के साथ सीमा विवाद नियंत्रण में : चीन

3.1946683 ०८ मार्च २०१५ २१:५६:५८ bhaskar

भारतके साथ सीमा विवाद पर चीन ने नियंत्रण कर लिया है। अब दोनों देशों को आपसी सहयोग से इस विवाद को सुलझाने के लिए और अधिक प्रयास करने होंगे। यह बात चीन के विदेश मंत्री वांगयी ने नेशनल पीपुल्स कांग्रेस के वार्षिक सम्मेलन के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में कही। हालांकि उन्होंने उदाहरण देते हुए कहा यह पहाड़ की चढ़ाई की तरह है। जहां जैसे-जैसे लक्ष्य के करीब जाते हैं, सफर मुश्किल होता है। उन्होंने कहा कि दोनों देशों को आपसी सहयोग के लिए बहुत कुछ करने की जरूरत है। ताकि द्विपक्षीय सहयोग से सीमा विवाद को सुलझाया जा सके। वांग ने चीन-भारत सीमा से जुड़े सवालों को ‘इतिहास की विरासत’ करार दिया। और कहा, ‘हमने कई साल तक इस पर काम किया और सीमा विवाद बातचीत में कुछ प्रगति हुई है। सीमा विवाद पर बातचीत छोटी-छोटी सकारात्मक घटनाओं के साथ प्रक्रिया में है। इस साल छह मई से पहले भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पहली चीन यात्रा पर सकते हैं। उनका यहां के लोग गर्मजोशी से स्वागत करेंगे।’ चीन के साथ चार हजार किमी लंबी एलएसी पर दोनों तरफ से पेट्रोलिंग पर भारत का फोकस है। यह बात...

Vice null Time०८ मार्च २०१५ २१:५६:५८


भारत और चीन जल्‍दी सुलझाएंगे सीमा विवाद

3.1946683 ०२ फ़रवरी २०१५ ०२:०३:३४ Daily Hindi News | The First Online Hindi Newspaper from Sagar

पेइचिंग (डेली हिंदी न्‍यूज़ डैस्‍क)। भारत और चीन ने सीमा समस्या के साथ-साथ अन्य मतभेदों को दूर करने के लिए कई समझौतों पर काम करना शुरू कर दिया है जिसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पेइचिंग यात्रा के दौरान अंतिम रूप दिया जाएगा। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा कि मोदी 23 मई को अपनी सरकार

Vice null Time०२ फ़रवरी २०१५ ०२:०३:३४


भारत और चीन तेजी से सुलझा सकते हैं सीमा विवाद : मेनन

3.1946683 ०२ दिसंबर २०१४ १६:१८:१९ Jagran Hindi News - news:national

भारत के पूर्व राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार शिवशंकर मेनन ने कहा कि भारत और चीन अपने सीमा विवाद को तेजी से सुलझा सकते हैं। उनका कहना है कि दोनों ही देशों में मजबूत सरकारें हैं और समझौते की दिशा में अधिकांश काम पहले ही पूरा किया जा चुका है।

Vice सभी समाचार Time०२ दिसंबर २०१४ १६:१८:१९