भारतीय रंग में रंगे आबे

Press Report

समाचार स्रोतों की सूची लगातार अद्यतन

Share on Facebook Share on Twitter Share on Google+

Ads

१३ सितंबर २०१७ १८:०२:०३ Loktej

  मोदी-शिंजो मीट: खुली जीप में किया 8 किमी रोड शो रोड शो की खास बातें साबरमती आश्रम में चरखे और तीन बंदरों के बारे में भी जानकारी दी भव्य रोड शो में दोनों नेताओं को 28 स्थानों पर सांस्कृतिक झांकियां दिखाई गईं 28 अलग-अलग राज्यों के नर्तकों ने पारंपरिक वेशभूषा में अपनी कला का पर पूर्ण लेख भारतीय रंग में रंगे आबे

Vice null Time१३ सितंबर २०१७ १८:०२:०३


Ads

कभी अमिताभ रंगे थे खाकी रंग में, अब खाकी शहंशाह के रंग में

4.1027446 ३० मई २०१७ १३:३७:४१ Jagran Hindi News - entertainment:bollywood

मुंबई पुलिस का ये अभिनव प्रयोग वाकई काबिले-तारीफ़ है। मनोरंजन के अंदाज़ में दी गई ये चेतावनी ज़्यादा असर कर सकती हैं।

Vice सभी समाचार Time३० मई २०१७ १३:३७:४१


अब घाटी में पूरे रंग में दिखेगा भारतीय रणनीति का असर

4.1027446 ०६ मई २०१७ २१:२८:०५ Jagran Hindi News - news:national

आतंकियों की घुसपैठ रोकने के साथ ही सुरक्षा बल आतंकी फंडिंग को पूरी तरह रोकने में भी सफलता मिली है।

Vice सभी समाचार Time०६ मई २०१७ २१:२८:०५


अब सफेद रंग में रंगा जाएगा किला मुबारक

3.7467275 २७ फ़रवरी २०१६ २२:३४:०६ bhaskar

^टूरिज्म मंत्री सोहन सिंह ठंडल ने कहा कि मामला ध्यान में नहीं है। अगर ऐसा हो रहा है तो मामले की जांच कराऊंगा। डायरेक्टर नवजोत सिंह रंधावा ने कहा कि असली रंग यही है। पर लंबे समय से रेनोवेशन होने के कारण दीवारों की हालत खराब हो गई है। किला मुबारक की नींव 1763 में बाला आला सिंह ने रखी थी। महाराजा नरिंदर सिंह ने 5 लाख रुपए खर्चकर 1859 में दीवान खाना बनवाया था। किला मुबारक की रेनोवेशन का काम करवा रही कंपनी के हेड एस बसंत ने बताया कि रेनोवेशन के लिए करीब 17 करोड़ रुपए का बजट है। उनका काम 18 से 24 महीने में पूरा होगा। फोटोइनपुट: अजय शर्मा कैप्टन का एतराज, कहा- पहले वाला रंग कुदरती ^पूर्वसीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने दीवारों का रंग बदलने पर आपत्ति जताई है। कहा, दीवारों से किसी भी तरह की छेड़छाड़ से पहले आर्काइव सर्वे ऑफ इंडिया से मंजूरी लेनी चाहिए थी। कैप्टन ने कहा कि पहला वाला रंग कुदरती रंग था, जिसे कायम रखना चाहिए। पटियाला। अबशाही शहर का किला मुबारक आपको नए लुक में दिखेगा। सिर्फ लुक ही चेंज नहीं हो रहा, बल्कि किला मुबारक का रंग भी बदला जा रहा है। जी हां, किला अब सफेद रंग...

Vice null Time२७ फ़रवरी २०१६ २२:३४:०६


भारतीय स्काउट ने पाकिस्तान में जमाया रंग

3.730783 १९ सितंबर २०१५ २३:५३:४० bhaskar

झुंझुनूं | पाकिस्तानके इस्लामाबाद में पर्यावरण शिक्षा पर एशिया पेसिफिक रीजन की कार्यशाला में भारतीय स्काउट ने छाप छोड़ी। सीओ स्काउट एम अशफाक पंवार बताया कि कार्यशाला में विश्व स्तर पर पर्यावरण में हो रहे नुकसान पर चिंता जताई गई। रीजन के सदस्यों ने पर्यावरण की दिशा में अपने देश में किए जा रहे कार्यों का प्रजेंटेशन दिया। भारत की ओर से नेशनल ग्रीन कोर योजना के तहत इको क्लब की जानकारी दी गई। क्लब के माध्यम से छात्र-छात्राओं को पर्यावरण से जोड़ने और जनजागरुकता कार्यक्रम चलाने के बारे में बताया गया। इसकी सराहना की गई। इंटरनेशनल लाइट में राजस्थानी लोकगीत और लोकनृत्यों पर श्रोता थिरकने लगी। फूड प्लाजा में भारतीय व्यंजनों की सभी ने सराहना की। भारतीय दल में सीओ के साथ सूरतगढ़ के प्राध्यापक डॉ. सागरमल लाहिड़ी, नवलगढ़ के सहायक जिला कमिश्नर गंगाधर सिंह सूंडा, सचिव अर्जुन सिंह सांखनिया, लीडर ट्रेनर रामावतार सबलानिया शामिल हैं। दल 22 को भारत पहुंचेगा।

Vice null Time१९ सितंबर २०१५ २३:५३:४०


अब देशभक्ति में रंगी शिक्षानगरी

3.7272828 १३ अगस्त २०१५ १५:२७:२४ Jagran Hindi News - uttarakhand:haridwar

जागरण संवाददाता, रुड़की: शिक्षानगरी शिवभक्ति के बाद अब देशभक्ति के रंग में रंग गई है। शहर में तिरंगा,

Vice सभी समाचार Time१३ अगस्त २०१५ १५:२७:२४


एक भारतीय का कारनामा, अब गिरगिट की तरह रंग बदल सकेंगे आपके कपड़े

3.7272828 २५ जून २०१५ १४:०९:२६ Jagran Hindi News - news:world

'गिरगिट की तरह रंग बदलने' की कहावत अब सच होने वाली है। जी हां! चौंकिए मत भारतीय मूल के एक अमेरिकी वैज्ञानिक देबाशीष चंदा ने प्रकृति की इस अनोखी कलाकारी से प्रेरणा लेते हुए बाल से भी पतला डिस्प्ले बनाया है। इस डिस्प्ले की मदद से किसी भी सतह कादेबाशीष

Vice सभी समाचार Time२५ जून २०१५ १४:०९:२६


छतें नहीं रंगी..अब भुगतो

3.7272828 ०८ जून २०१५ १६:१५:१५ Jagran Hindi News - himachal-pradesh:shimla

संवाद सहयोगी, शिमला : नगर निगम शिमला ने हाईकोर्ट के 2006 के आदेशानुसार छतें न रंगने वाले 540 लोगों क

Vice सभी समाचार Time०८ जून २०१५ १६:१५:१५


अब एक रंग में दिखेंगे सफाईकर्मी

3.7267954 ०८ अप्रैल २०१५ २२:१७:३० Jagran Hindi News - bihar:muzaffarpur

जासं, मुजफ्फरपुर : सिर्फ नगर निगम के भरोसे शहर की सफाई संभव नहीं है। यह हम सबकी जिम्मेवारी है। जन

Vice सभी समाचार Time०८ अप्रैल २०१५ २२:१७:३०


रंगों के साथ अब चने की भाजी पर नजर

3.7267954 २२ फ़रवरी २०१५ २३:०४:५२ bhaskar

कृषि वैज्ञानिकों ने तैयार की हैं चने के रंगों की कई वैरायटी बलजीतसिंह ठाकुर | सीहोर चनेका उत्पादन बढ़ाने के लिए कृषि वैज्ञानिकों ने कई वैरायटी तैयारी की हैं। अब किसानों के लिए चने की खेती में अधिक फायदा दिलाने के लिए वैज्ञानिक भाजी की वैरायटी पर काम कर रहे हैं। इसी तरह चने के कई तरह के अलग-अलग रंग भी काफी लुभाते हैं। भाजीवाले चना बीज पर काम : आरएकेकृषि कॉलेज के वैज्ञानिक डॉ. एम यासीन कहते हैं कि अब चना भाजी के लिए वैरायटी तैयार करने पर काम किया जा रहा है। उनका कहना है कि चना एक ऐसी उपज है जिसकी जड़ को छोड़कर शेष सभी का इस्तेमाल किया जा सकता है। चने की बोवनी के 30 दिन बाद भाजी तैयार हो जाती है। इसे बेचकर किसान फायदा ले सकते हैं। इसके बाद जब फली जाए तो इसे बेच सकते हैं। पकने के बाद उपज को निकाल सकते हैं। श्री यासीन का मत है कि ऐसे चने की जरूरत है जिसकी भाजी बेचकर किसानों को काफी फायदा हो सके। अब इसी पर काम चल रहा है। उन्होंने बताया कि आने वाले समय में वह चना काटो, चना लगाओ पर जोर देंगे। पानी की समस्या नहीं तो किसान इसकी दो से तीन फसलें ले सकते हैं। काले चने के...

Vice null Time२२ फ़रवरी २०१५ २३:०४:५२


जोधपुरी दुल्हे की शादी में विदेशी बाराती, सभी के सभी रंगे भारतीय रंग में

3.7267954 ०८ फ़रवरी २०१५ २१:५५:१२ bhaskar

जोधपुर। यह एक बारात का दृश्य है। इसमें दूल्हा देवाशिष जोधपुरी है और बाराती विदेशी। लेकिन सभी भारतीय रंग में रंगे हुए। युवकों ने जोधपुरी कोट, पंचरंगी पगड़ी और मारवाड़ी जूतियां पहनीं तो युवतियों ने लहंगा चुनरी। रविवार शाम यहां एक होटल से यह बारात निकली तो लोग देखते रह गए। बारात में शामिल 50 से अधिक दूल्हे के विदेशी दोस्त जब सड़कों पर बैंड बाजों की धुन पर डांस करने लगे तो कोई यह मानने को तैयार नहीं था कि ये विदेशी हैं। दूल्हे देवाशिष ने बताया कि दोस्तों को इंडियन ट्रेडिशन लुक में बारात में शामिल होने की बात एक महीने पहले ही बता दी थी। सभी दोस्तों ने कॉस्टयूम सिलेक्ट किए। कुछ ने ऑनलाइन ऑर्डर दिया और कुछ को देवाशिष ने मदद की। दोस्तों ने इंडियन डांस भी सीखा। दूल्हा देवाशिष सिंघवी लंदन में पला बढ़ा और दुल्हन प्रियंका सिंगापुर में। दोनों मूलतया जोधपुर के हैं लेकिन 30 साल से इनके परिवार लंदन और सिंगापुर में रहता है। वहां कई जगह बिजनेस है। लेकिन दूल्हा दुल्हन ने शादी जोधपुर में करने का निर्णय लिया। आगे की स्लाइड में देखें दुल्हे् का फोटो...

Vice null Time०८ फ़रवरी २०१५ २१:५५:१२