नगर पालिका अध्यक्ष के निलंबन आदेश पर रोक

Press Report

समाचार स्रोतों की सूची लगातार अद्यतन

Share on Facebook Share on Twitter Share on Google+

Ads

१३ सितंबर २०१७ १७:४९:१७ Latest And Breaking Hindi News Headlines, News In Hindi | अमर उजाला हिंदी न्यूज़ | - Amar Ujala

राजस्थान हाईकोर्ट ने चाकसू नगर पालिका की अध्यक्ष को निलंबित करने के आदेश पर रोक लगा दी है। पर पूर्ण लेख नगर पालिका अध्यक्ष के निलंबन आदेश पर रोक

Vice null Time१३ सितंबर २०१७ १७:४९:१७


Ads

एसडीएम के आदेश के बावजूद नगर पालिका ने नहीं हटवाया अतिक्रमण

3.3287718 १३ दिसंबर २०१५ २१:५९:१३ bhaskar

शहरमें अतिक्रमण होने से लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। दुकानों के आगे से अतिक्रमण हटवाने को लेकर ढीली कार्रवाई कर रही नगर पालिका पर एसडीएम के आदेश का कोई असर नहीं हुआ है। एसडीएम के आदेश देने के बावजूद लोगों को अतिक्रमण की समस्या से निजात नहीं मिल पाई है और अब एसडीएम से आगे शहरवासी डीसी दफ्तर जाने के बारे में सोच रहे हैं। अगर ऐसा हुआ तो यह तय है कि नपा के सामने एसडीएम कुछ नहीं। लोगों की निगाह अब एसडीएम पर है कि उनके आदेशों की अहमियत वे नपा के अधिकारियों को समझा पाते हैं या फिर इसके लिए उन्हें डीसी दफ्तर में हाजिरी लगानी पड़ेगी। दरअसल, शहर में मेन बाजार, पुराना बाजार, बुढलाडा रोड, टोहाना रोड, फतेहाबाद रोड, बुढलाडा रोड, संजय गांधी चौक, भगत सिंह चौक मंडी रोड पर दुकानों के सामने फुटपाथ पर रखा है। फुटपाथ पर रास्ता बंद होने के कारण लोगों को सड़क पर पैदल चलना पड़ता है और हादसे के शिकार लोग होते हैं। लोगों के अनुसार अतिक्रमण के कारण जाम कई बार इतना जबरदस्त लग जाता है कि ट्रैफिक पुलिस का समय लोगों को समझाने में ही बीत जाता है। कोई किसी की सुनता नहीं और...

Vice null Time१३ दिसंबर २०१५ २१:५९:१३


जालोर नगर परिषद चेयरमैन के निलंबन पर हाईकोर्ट की रोक

2.3317049 १७ सितंबर २०१५ ००:०८:५४ bhaskar

राजस्थानहाईकोर्ट के न्यायाधीश पीके लोहरा ने बुधवार को एक रिट याचिका विचारार्थ स्वीकार कर रिश्वत के अारोप में पकड़े गए जालोर नगरपरिषद अध्यक्ष भंवरलाल माली के निलंबन पर रोक लगा दी है। सरकार को नोटिस जारी कर जवाब तलब किया है। याचिकाकर्ता माली की ओर से वरिष्ठ अधिवक्ता महेंद्रसिंह सिंघवी ने बहस करते हुए कोर्ट को बताया कि अध्यक्ष माली ने रिश्वत की राशि नहीं ली और ही मांगी। रिश्वत की राशि अन्य आरोपी आचार्य ने अध्यक्ष के नाम पर मांगी और ली। इस तरह तीसरे पक्ष द्वारा रिश्वत लेने के आरोप में अध्यक्ष को कैसे निलंबित किया जा सकता हैω उन्होंने स्वायत शासन विभाग द्वारा जारी आदेश का उल्लेख करते हुए कहा कि भ्रष्टाचार में लिप्त पाए जाने पर लोक सेवक को निलंबन किया जाए, यह सरकार कर्मचारियों पर लागू होता है। इसमें जनप्रतिनिधि शब्द कहीं भी अंकित नहीं है और ही लागू होता है। उन्होंने हाईकोर्ट सुप्रीम कोर्ट के फैसलों की प्रति भी कोर्ट के समक्ष पेश की। उन्होंने शिकायतकर्ता द्वारा निलंबन के पक्ष में दायर की याचिका भी अनुचित बताया। दोनों पक्षों को सुनने के बाद जस्टिस...

Vice null Time१७ सितंबर २०१५ ००:०८:५४


नगर परिषद चेयरमैन के निलंबन पर रोक

2.10114 १७ सितंबर २०१५ ००:०८:५२ bhaskar

भास्कर न्यूज | जोधपुर/जालोर राजस्थानहाईकोर्ट के न्यायाधीश पीके लोहरा ने बुधवार को एक रिट याचिका विचारार्थ स्वीकार कर रिश्वत के आरोप में पकड़े गए जालोर नगरपरिषद अध्यक्ष भंवरलाल माली के निलंबन पर रोक लगा दी है। सरकार को नोटिस जारी कर जवाब तलब किया है। याचिकाकर्ता माली की ओर से वरिष्ठ अधिवक्ता महेंद्रसिंह सिंघवी ने बहस करते हुए कोर्ट को बताया कि अध्यक्ष माली ने रिश्वत की राशि नहीं ली और ही मांगी। रिश्वत की राशि अन्य आरोपी आचार्य ने अध्यक्ष के नाम पर मांगी और ली। इस तरह तीसरे पक्ष द्वारा रिश्वत लेने के आरोप में अध्यक्ष को कैसे निलंबित किया जा सकता हैω उन्होंने स्वायत्त शासन विभाग द्वारा जारी आदेश का उल्लेख करते हुए कहा कि भ्रष्टाचार में लिप्त पाए जाने पर लोक सेवक को निलंबन किया जाए यह सरकारी कर्मचारियों पर लागू होता है। इसमें जनप्रतिनिधि शब्द कहीं भी अंकित नहीं हैं और ही लागू होता है। उन्होंने हाईकोर्ट सुप्रीम कोर्ट के फैसलों की प्रति भी कोर्ट के समक्ष पेश की। शेष|पेज19 उन्होंनेशिकायतकर्ता द्वारा निलंबन के पक्ष में दायर याचिका को भी अनुचित...

Vice null Time१७ सितंबर २०१५ ००:०८:५२


सरपंच के निलंबन के आदेश पर रोक

2.10114 १० जून २०१५ २२:४०:०४ bhaskar

पलवल| ग्रामपंचायत रींडका के सरपंच भगवान सिंह के निलंबन आदेश पर रोक लगा दी गई है। निलंबन आदेश पर एडिशनल चीफ सेक्रेटरी हरियाणा डेवलपमेंट एंड पंचायत डिपार्टमेंट ने रोक लगाने के आदेश जारी किए हैं। डीसी अशोक कुमार मीणा ने जांच रिपोर्ट के आधार पर सरपंच को सस्पेंड कर दिया था। डीसी के सस्पेंड आर्डर के खिलाफ एडिशनल चीफ सेक्रेट्री ने रोक लगा दी। सस्पेंशन आदेश पत्र क्रमांक 32325-29 में एडिशनल चीफ सेक्रेटरी ने कहा है कि आगामी सुनवाई तक सरपंच अपने पद पर पहले की तरह बने रहेंगे और पहले की तरह काम करते रहेंगे।

Vice null Time१० जून २०१५ २२:४०:०४


हाईकोर्ट ने नगर पालिका अध्यक्ष के अधिकारों को सीज करने के आदेश पर लगाई रोक

2.0402417 ३० मई २०१५ २१:१६:३६ bhaskar

इलाहाबाद. इलाहाबाद हाईकोर्ट ने गाजीपुर नगर पालिका परिषद के चेयरमैन विनोद कुमार अग्रवाल के वित्तीय और प्रशासनिक अधिकार को प्रदेश सरकार द्वारा सीज करने के आदेश पर रोक लगा दी है। कोर्ट का कहना है कि जिस तरीके से चेयरमैन के अधिकारों को जब्त किया गया है। उसको देखने के बाद पहली नजर में अंतरिम आदेश निर्गत करने का आधार बन रहा है। यह आदेश न्यायमूर्ति विक्रमनाथ और न्यायमूर्ति शशिकांत की खण्डपीठ ने चेयरमैन विनोद कुमार जायसवाल की याचिका पर दिया। याचिका में कहा गया था कि यूपी म्यूनिसिपलिटी एक्ट 1916 की धारा 48 1/421/2 में सरकार को यह अधिकार है कि वह नगर पालिका अध्यक्ष के वित्तीय और प्रशासनिक अधिकार को जब्त कर दे। साथ ही उन्‍होंने कहा कि सरकार को ऐसा करने से पहले उन कारणों का उल्लेख करना होगा जिसमें लगाए गए सभी आरोप सही साबित हो। विनोद कुमार जायसवाल के वकील ने कोर्ट में कहा कि यूपी सरकार ने चेयरमैन की शक्तियों को जब्त करने से पहले किसी भी प्रकारण के कारणों का उल्लेख नहीं किया। पूरी सुनवाई के बाद कोर्ट ने चेयरमैन के खिलाफ पारित आदेश पर रोक लगा दी। साथ ही...

Vice null Time३० मई २०१५ २१:१६:३६


पूर्व पालिका अध्यक्ष के खिलाफ रपट का आदेश

1.9453431 ०७ फ़रवरी २०१५ २१:४८:२६ bhaskar

नगरपालिका काल में बहुचर्चित चेक कांड में पूर्व नपाध्यक्ष के खिलाफ अपराध दर्ज कर समंस जारी करने का आदेश न्यायालय से हुआ है। घटना 2011-12 की है। नगर पालिका काल में एक ही कार्य आदेश के संबंध में दो बार चेक जारी हुआ था। दोनों ही चेक में पूर्व नपाध्यक्ष डा. एनपी गुप्ता का हस्ताक्षर था। मामले को कांग्रेस पार्टी के पार्षद विधायक ने उठाया था। पुलिस ने इस मामले में नपा के पूर्व सीएमओ डीआर सिन्हा, एकाउंटेट खेत्रों माेहन, प्रकाश सोनी को अभियुक्त बनाया गया था। तीनों की गिरफ्तारी भी हुई थी और तीनों न्यायिक अभिरक्षा में हैं। चेक कांड को लेकर कन्हैयालाल वाधवानी ने न्यायालय में परिवार दायर किया था। परिवादी कनहैयालाल ने डा. नारायण प्रसाद गुप्ता को मुख्य आरोपी बताया। साथ ही धोखाधड़ी कर शासकीय राशि 2 लाख 23 हजार 697 का चेक संयुक्त रुप से सीएमओ डीके सिन्हा तथा डा. गुप्ता द्वारा जारी किया जाना बताया गया। 7 फरवरी को प्रथम श्रेणी न्यायिक मजिस्ट्रेट विनय कुमार प्रधान ने सुनवाई करते हुए पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष डा. एनपी गुप्ता को उक्त मामले में संलिप्त होना पाया। प्रथम दृष्टया...

Vice null Time०७ फ़रवरी २०१५ २१:४८:२६


नगर पालिका के अन्य भुगतानों पर रोक

1.8384974 १६ जनवरी २०१५ २२:२८:४१ bhaskar

दमोह : नगरपालिका सीएमओ सुधीर सिंह को निर्देश दिए गए हैं कि जुझार घाट पेयजल योजना में निकाय की अंशदान राशि 1063 लाख रुपए 15 फरवरी तक जमा की जाना है। इस पर सीएमओ ने कार्यालय के कर्मचारियों के वेतन भत्ते, मेंटीनेंस को छाेड़कर समस्त भुगतानों पर आगामी आदेश तक रोक लगाई है।

Vice null Time१६ जनवरी २०१५ २२:२८:४१


अध्यक्ष ने नगर पालिका में लगाई झाड़ू

1.8043143 १२ जनवरी २०१५ २१:४९:०५ bhaskar

भाजपा से पार्षद बनीं, बसपा से नगर पंचायत उपाध्यक्ष चुनी गईं अध्यक्ष अाैर उपाध्यक्ष को नहीं दिया न्यौता जब विधायक बोलेंगे, तो छोड़ देंगे कांग्रेस शपथ पत्र हाथ में लेकर महिला पार्षदों ने चुप्पी साधी पार्षद नहीं पढ़ पाए शपथ पत्र, कांग्रेसी पार्षदों ने भाजपा में जाने के दिए संकेत {पार्षद उम्मीदवारों को भाजपा विधायक नरेन्द्र सिंह कुशवाह ने एक होटल में किया नजरबंद। रामनरेश शर्मा के निर्विरोध होने पर महिला पार्षदों को बांटे गए भोजन के पैकेट। भास्करसंवाददाता|भिंड नगरपालिकाभिंड में सोमवार को शपथ ग्रहण समारोह में महिला पार्षद शपथ पत्रों पर हस्ताक्षर तक नहीं कर पाईं। जब एडीएम ने उनको शपथ दिलवाई, तो छह महिला पार्षदों ने चुप्पी साध ली। मौन रहकर एक दूसरे की ओर देखती रहीं। उधर नपा अध्यक्ष कलावती जाटव भी शपथ पत्र नहीं पढ़ पाईं और एडीएम ने जो कहा, उसे ही दोहराने लगीं। नपा उपाध्यक्ष के चुनाव को लेकर तीन घंटे तक गहमा गहमी रही। भाजपा भिंड विधायक नरेन्द्र सिंह कुशवाह ने महिला पार्षदों को होटल में नजर बंद कर बाहर पार्टी के नेता तैनात कर दिए। चार कांग्रेस के...

Vice null Time१२ जनवरी २०१५ २१:४९:०५


नगर आयुक्त कुलदीप नारायण के निलंबन पर रोक

1.7596979 १६ दिसंबर २०१४ १३:३४:२२ Jagran Hindi News - bihar:patna-city

पटना के नगर आयुक्त कुलदीप नारायण के निलंबन पर पटना उच्च न्यायालय ने राज्य सरकार को झटका दिया है। उच्च न्यायालय ने उनके निलंबन पर तत्काल रोक लगा दी है।

Vice सभी समाचार Time१६ दिसंबर २०१४ १३:३४:२२


अब तक ये रहे हैं नगर पालिका अध्यक्ष

1.667437 १८ नवंबर २०१४ ००:२७:४३ bhaskar

बांसवाड़ा। शहरमें नगर पालिका बनने के बाद से अब तक की नगर परिषद तक 15 जनप्रतिनिधि चेयरमैन रहे हैं। इनमें प्रमुख नाम करणसिंह कोठारी, छगनलाल मेहता, सवाईलाल गुप्ता, दिनकरलाल मेहता, गोविंदलाल याज्ञनिक, लालमोहम्मद, दिनेश कुमार जोशी, मणिलाल बोहरा, रमेशचंद्र पंवार, उमेश पटियात, कृष्णा कटारा और राजेश टेलर शामिल हैं। इनमें तीन प्रतिनिधि ऐसे भी रहे हैं, जिन्हें दुबारा चेयरमैन बनने का मौका मिला है।

Vice null Time१८ नवंबर २०१४ ००:२७:४३